Saturday, April 20, 2019

Huawei के पीछे चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा का हाथ, अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA का दावा

Huawei के पीछे चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा का हाथ, अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA का दावा

अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA ने एक रिपोर्ट में कहा है कि चीनी बहुराष्ट्रीय दूरसंचार उपकरण "हुआवेई" ने चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा से धन लिया है। लेकिन Huawei ने दावों को खारिज कर दिया और इसे सीआईए द्वारा लगाए गए आरोपों के रूप में उद्धृत किया।

Huawei

क समाचार स्रोत के अनुसार, अमेरिकी खुफिया एजेंसी ने कहा कि चीनी बहुराष्ट्रीय कंपनी हुआवेई को पीपुल्स लिबरेशन आर्मी, चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा आयोग और चीनी राज्य खुफिया नेटवर्क से पैसा मिला है। CIA की रिपोर्ट को "आरोप" कहने के बाद Huawei ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

The Times खबर में आगे कहा गया है कि अमेरिकी खुफिया एजेंसी ने ब्रिटेन और उसके अन्य खुफिया गठबंधन ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और कनाडा के साथ इन दावों को शेयर किया। CIA का दावा उस समय सामने आया है जब Huawei ब्रिटेन के नए 5G मोबाइल नेटवर्क के लिए अपनी टेक्नोलॉजी की सप्लाई करने वाली है।

हुआवेई ने दावों को खारिज कर दिया है और कहा है कि वे चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए सार्वजनिक जानकारी इकट्ठा नहीं करते हैं। कंपनी के प्रतिनिधि ने इस मामले पर टिप्पणी की जिसमें उन्होंने कहा कि वे स्वतंत्र हैं और अमेरिकी आरोप गुमनाम स्रोतों पर आधारित हैं।

The Australian अखबार ने एक अमेरिकी स्रोत का हवाला देते हुए बताया कि हुआवेई को Five Eyes Club के किसी भी सदस्य को अपनी 5G तकनीक बेचने की अनुमति देना समस्याग्रस्त है क्योंकि चीन के पास खुफिया और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून हैं जो कंपनियों को चीनी सेना की सहायता करने के लिए मजबूर करते हैं।

विकीपीडिया के उल्लेखनीय स्रोतों के अनुसार, Huawei की स्थापना 1987 में पूर्व पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के एक अधिकारी ने की थी। इसलिए, यह माना जाता है कि कंपनी को चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा आयोग से धन प्राप्त हुआ है।

Read other related articles

Also read other articles

© Copyright 2019 TechLekhak | All Right Reserved