Wednesday, April 10, 2019

हैकर्स ने ताजमहल APT Framework को तैनात किया

हैकर्स ने ताजमहल APT Framework को तैनात किया

Kaspersky Lab के सुरक्षा शोधकर्ताओं ने "ताजमहल" नामी ATP framework को डिस्कवर किया जो "सेंट्रल एशिया डिप्लोमेटिक एजेंसी" को कई साल टारगेट कर रहा था। ये मैलवेयर बहुत ही एडवांस्ड और जटिल है।

TajMahal APT Framework

Kaspersky के सुरक्षा विश्लेषण के अनुसार, TajMahal प्रोजेक्ट के पैकेज के दो भाग है जिस का नाम टोक्यो और योकोहामा है। दोनों हिस्सों में, 80 दुर्भावनापूर्ण मॉड्यूल हैं जो साबित करते हैं कि यह समय का सबसे घातक और खतरनाक मैलवेयर है।

ताजमहल तुलसेट में कई उन्नत विशेषताएं है जो इस प्रोजेक्ट के लिए आसान बैकडोर प्रदान करता है जिस से हैकर चालाकी से Keylogger, ऑडियो रिकॉर्डर, वेब कैमरा स्पायवेयर को कण्ट्रोल करने में मदद करता है।

सुरक्षा शोधकर्ता का कहना है की ओंताजमहल ATP फ्रेमवर्क एक ऐसा तुलसेट है जिस में इतने सरे दुर्भावनापूर्ण मॉड्यूल मौजूद है जो USB ड्राइव और Hard disk का डेटा बड़ी आसानी के साथ चुरा लेता है।

ताजमहल का उपयोग पिछले 5 वर्षों से हो रहा है जिसको 2013 में बनाया गया। Kaspersky Lab ने अपने ट्वीट में लिखा की ताजमहल किसी भी विशेष फ़ाइल को USB से चुरा सकता है जब USB या CD को संक्रमित कंप्यूटर में सम्मिलित किया जाता है।

बहरहाल, जिस तेजी से टेक्नोलॉजी का विकास हो रहा है, हैकर्स प्रौद्योगिकी जगत को और भी सरल तरीकों से परेशान करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं।

Read other related articles

Also read other articles

© Copyright 2019 TechLekhak | All Right Reserved